दक्षिण चीन सागर में सैन्य गतिविधियों के लिए अमेरिका ने चीन को फटकारा, क्षेत्र को अस्थिर करने वाला कार्रवाई बताया

विवादित दक्षिण चीन सागर में सैन्य गतिविधियों के लिए अमेरिका ने चीन को फटकारा है और कहा है कि उसका ये कदम क्षेत्र को अस्थिर करने वाला है। उसने कहा है कि चीन की कार्रवाइयां दर्शाती हैं कि वह सेना का इस्तेमाल अंतरराष्ट्रीय जल और वायु क्षेत्र में काम करने वालों को डराने या धमकाने के लिए करता है। यूनाइटेड स्टेट्स इंडो-पैसिफिक कमांड (INDOPACOM) ने कहा कि दक्षिण चीन सागर में पिछले एक हफ्ते में चीनी सैन्य उड़ानों ने अमेरिकी नौसेना के विमानवाहक पोत के लिए कोई खतरा उत्पन्न नहीं किया। इंडोपाकॉम के प्रवक्ता अमेरिकी नौसेना के कप्तान माइक काफ्का ने एक बयान में कहा कि के थियोडोर रूजवेल्ट कैरियर स्ट्राइक ग्रुप ने पीपुल्स लिबरेशन आर्मी नेवी (पीएलएएन) और वायुसेना (पीएलएएएफ) गतिविधियों की बारीकी से निगरानी की। उन्होंने किसी भी समय अमेरिकी नौसेना के जहाजों, विमानों या नाविकों के लिए खतरा पैदा नहीं किया। उन्होंने क्षेत्र में बढ़ते चीनी गतिविधियों को 'आक्रामक और अस्थिर करने की कार्रवाई' का नवीनतम उदाहरण बताया। पीएलए द्वारा ये कार्रवाई अपने पड़ोसियों और प्रतिस्पर्धी क्षेत्रों में दावों के साथ अंतरराष्ट्रीय जल और हवाई क्षेत्र में काम करने वालों को डराने-धमकाने का एक निरंत प्रयास को दिखाती है।

दक्षिण चीन सागर में सैन्य गतिविधियों के लिए अमेरिका ने चीन को फटकारा, क्षेत्र को अस्थिर करने वाला कार्रवाई बताया