लड़की ने वह कौन सा राज छुपा रखा था जिसके पर्दाफाश होने के भय से पिता ने ही उसे फांसी के फंदे से लटका दिया जानिए

Crime news update

लड़की ने वह कौन सा राज छुपा रखा था जिसके पर्दाफाश होने के भय से पिता ने ही उसे फांसी के फंदे से लटका दिया जानिए

समस्तीपुर जिले के विभूतिपुर थाना अंतर्गत पहाड़पुर में एक युवती की लाश उसके घर से ही मिली। लेकिन , यह हत्या की कोई सामान्य घटना नहीं थी। इसका आारोपित उसका पिता ही है।

जो घटना के बाद से फरार है। इतना ही नहीं, आरोपित की पत्नी का तो यहां तक दावा है कि वह विगत 10 दिनों से घर में किसी की हत्या होने की बात कह रहा था। ऐसे में यह एक बड़ा सवाल है कि आखिर लड़की वह कौन सा राज जानती थी जिसके पर्दाफाश हाेने का डर उसके पूर्व मुखिया पिता को सता रहा था। भय ऐसा कि उसने अपनी बेटी को ही पंखे के फंदे से लटकाकर मौत की नींद सुला दिया और वहां से फरार हो गया।

पति को ही नामजद किया घटना 24 सितंबर की बताई जाती है। इसकी सूचना मृतका की मां को मोबाइल पर तब मिली जब वह विधानसभा चुनाव का प्रशिक्षण लेने समस्तीपुर गई हुई थी। मृतका शंभू कुमार दास गुप्ता की पुत्री रमणिका कुमारी है। मृतका की मां ने स्थानीय थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई है। जिसमें उसने अपने पति को ही नामजद किया है।

दर्ज प्राथमिकी में महिला ने बताया है कि उसके पति पहाड़पुर पंचायत के पूर्व मुखिया हैं और वह शिक्षिका। उसके चार बच्चे हैं। घटना के वक्त पिता-पुत्री ही घर में मौजूद थे। आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर वह स्वयं 24 सितंबर को समस्तीपुर में प्रशिक्षण लेने गई थी।

गले पर फंदे के निशान महिला के मुताबिक उसके पति ने बेटी को पहले तो गालियां दीं और फिर घर के अंदर पंखे के फंदे से लटकाकर हत्या कर दी । इसकी सूचना देवर सुरेंद्र दास ने उसे मोबाइल पर दी। इसके बाद वह समस्तीपुर से चली और पुलिस को भी सूचना दी। घर पहुंची तो पुत्री को पलंग पर मृत अवस्था में पाया। गले पर फंदे के निशान थे।

पति घर पर नहीं मिला। बताया कि उसका पति विगत 10 दिनों से बार-बार यह कहता था कि 29 सितंबर तक घर में एक लाश गिरेगी। थानाध्यक्ष कृष्ण चंद्र भारती ने बताया कि शव का अंत्यपरीक्षण करवाया गया है। मृतका की मां द्वारा दिए गए आवेदन पर केस दर्ज कर पुलिस मामले की जांच में जुटी है।